आपकी प्रतिक्रिया 

   लिखें  पढें 

1 जून 2001

कहानियांकविताएंसाहित्य संगमदो पलकला दीर्घासाहित्यिक निबंधउपहारविशेषांक
फुलवारी हास्य व्यंग्य प्रकृति पर्यटनसंस्मरणप्रेरक प्रसंगरसोईस्वास्थ्यघर परिवार
पर्व परिचयशिक्षास्रोतआभारलेखकसंपर्क

रसोईघर  में

स्वाथ्यवर्धक
सेब का हलवा
हर मौसम में सुलभ और स्वादिष्ट

 

घर परिवार  में 
सुनो कहानी

अगर आपको अपनी दादी या नानी की याद है जो बडे़ चाव से अभिनय और बदलती आवाज़ों के साथ कहानी सुनाया करती थीं तो मनोरंजन के वे पल आपकी आँखो के सामने साकार हो उठे होंगे  जब सर्दियों की रातों में मूंगफली टूंगते हुए सारा कुनबा एक कमरे में एकठ्ठा हो जाता था और उस शाम की कलाकार होती थी दादी या नानी।

 

स्वाद और स्वस्थ्य  में सदाबहार सेब के अंतर्गत सेब के गुणों की चर्चा

 

उपहार में



एक और मधुर संयोजन
उस नीलम की संध्या में 
जावा आलेख 
हिन्दी कविता के साथ

 

पर्व परिचय में 
जून माह के पर्व 

हर साल जून के महीने में राजस्थान के
माउंट आबू शहर की पन्ने सी हरी पहाड़ियों  नीलम सी नीली झीलों नयनाभिराम वादियों और मनोरम जलवायु में ग्रीष्म महोत्सव मनाया जाता है।
तीन दिनों के इस उत्सव में शास्त्रीय संगीत लोक नृत्य दर्शकों के लिये भारत के सांस्कृतिक और लोक जीवन की एक खिड़की खोल देते हैं।


प्रेरक प्रसंग में
अब्दुर्रहीम खानखाना के जीवन पर आधारित सुधीर निगम का प्रेरक प्रसंग 
नियम सबके लिये है

 

कला दीर्घा   में
वरली के विषय में रोचक और उपयोगी जानकारी

 

 साहित्य समाचार 

फुलवारी में
पूर्णिमा वर्मन की कविता
पिटूनिया के प्यारे फूल
और कहानी
चालाकी का फल

 

नये अंकों की सूचना के लिये अपना इ मेल यहां लिख कर भेजें।


 

कविताओं की पत्रिका
अनुभूति में 
डॉ जगदीश गुप्त का भाव प्रबंध

सांझ
पूरा एक अंक में

 

पिछले अंक से

पर्यटन में दीपिका जोशी का लंबा यात्रा वृतांत सिंगापुर बैंकाक और पटाया का त्रिकोण

 

कहानियों में  तेजेन्द्र शर्मा की कहानी 
जीना यहां किसके लिये

 

साहित्य संगम में  बिपिन बिहारी मिश्र की उड़िया कहानी प्रतियोगी

 

दो पल में अश्विन गांधी की रोचक रचना एक महल हो सोने का

 

हास्य व्यंग्य में राजेन्द्र त्यागी का जबरदस्त व्यंग्य लेख भ्रष्टाचार समाप्त नहीं होगा

 

साहित्यिक निबंध में दिविक रमेश की रचना कला माध्यम संवाद या विवाद

कहानियांकविताएं साहित्य संगमदो पल कला दीर्घासाहित्यिक निबंध उपहारविशेषांक
फुलवारी हास्य व्यंग्य प्रकृति पर्यटनसंस्मरणप्रेरक प्रसंग रसोईस्वास्थ्य घर परिवार
पर्व परिचय शिक्षास्रोतआभारलेखकसंपर्क

 सर्वाधिकार सुरक्षित
"अभिव्यक्ति" व्यक्तिगत अभिरूचि की अव्यवसायिक साहित्यिक पत्रिका है। इस में प्रकाशित सभी रचनाओं के सर्वाधिकार संबंधित लेखकों  अथवा प्रकाशकों के पास सुरक्षित हैं। लेखक अथवा प्रकाशक की लिखित स्वीकृति के बिना इनके किसी भी अंश के पुर्नप्रकाशन की अनुमति नहीं है। यह पत्रिका प्रति सप्ताह परिवर्धित होती है।

प्रकाशन : प्रवीन सक्सेना परियोजना निदेशन : अश्विन गांधी
संपादन  कलाशिल्प एवं परिवर्धन : पूर्णिमा वर्मन 
  सहयोग : दीपिका जोशी
तकनीकी सहयोग
  प्रबुद्ध कालिया