मुखपृष्ठ

पुरालेख-तिथि-अनुसार -पुरालेख-विषयानुसार -हिंदी-लिंक -हमारे-लेखक -लेखकों से


व्यक्तित्व

अभिव्यक्ति में
डा अरूण प्रकाश अवस्थी
की रचनाएं

संस्मरण में
मौरावां जहां रावण कभी नहीं मरता

 


डा अरूण प्रकाश अवस्थी

जन्म : 17 दिसंबर 1947

जन्मस्थान : उन्नाव जनपद में मौरावां कस्बे में(उन्नाव से 44 कि .मी .)

शिक्षा : हिंदी, अंग्रेज़ी भूगोल, पत्रकारिता में परास्नातक, अंग्रेज़ी में (इंडियन वूमनहुड थ्रू एजेज़ थीसिस विषय) डाक्टरेट।

कार्यक्षेत्र : ग्यारह वर्ष सेन्ट्रल बैंक आफ़ीसर्स ट्रेनिंग कालेज के प्रधानाचार्य के पद पर कार्य किया तथा कलकता के हिंदी दैनिक विश्वमित्र में अठारह वर्ष संपादक रहे।

प्रकाशित रचनाएं : 
कविता संग्रह 'रावीतट', 'क्रांति का देवता', 'महाराणा का पत्र', 'असुवन जल सींचि–सींचि', 'राम–श्याम शतक' तथा उपन्यास 'सिंधु शार्दूल दाहिरसेन' व 'सबसे ऊपर कौन' सहित कुल अठारह पुस्तकें प्रकाशित।

संप्रतिः 'सुभाष डिग्री कालेज, मौरावां' की प्रबंध समिति के अध्यक्ष तथा उतर प्रदेश के तीसरे सबसे बड़े पुस्तकालय 'हिंदी साहित्य पुस्तकालय, मौरांवां' के महा सचिव।

 
1

1
मुखपृष्ठ पुरालेख तिथि अनुसार । पुरालेख विषयानुसार । अपनी प्रतिक्रिया  लिखें / पढ़े
1
1

 सर्वाधिका सुरक्षित
"अभिव्यक्ति" व्यक्तिगत अभिरुचि की अव्यवसायिक साहित्यिक पत्रिका है। इस में प्रकाशित सभी रचनाओं के सर्वाधिकार संबंधित लेखकों अथवा प्रकाशकों के पास सुरक्षित हैं। लेखक अथवा प्रकाशक की लिखित स्वीकृति के बिना इनके किसी भी अंश के पुनर्प्रकाशन की अनुमति नहीं है। यह पत्रिका प्रत्येक
सोमवार को परिवर्धित होती है।