मुखपृष्ठ

पुरालेख-तिथि-अनुसार -पुरालेख-विषयानुसार -हिंदी-लिंक -हमारे-लेखक -लेखकों से


व्यक्तित्व


अभिव्यक्ति में लोकबाबू की रचनाएँ

 

कहानी
शिवः माम् मर्षयतु

 

ोक बाबू 

जन्म- १० जून १९५४ को मोतीपुर, राजनांदगाँव (छत्तीसगढ़) में।
शिक्षा- एम.काम. एम.ए.

कार्यक्षेत्र-
भिलाई इस्पात संयत्र में प्रबंधन तथा लेखन।

प्रकाशित कृतियाँ-
कहानी संग्रह- टीले पर चाँद, बोधिसत्व भी नहीं आए
उपन्यास- अब लौं नसानी, डींग
संपादन- कहानी संकलन हाथों के दिन, कविता संकलन फौलाद ढालते हाथों के लिये तथा बालोदवी की गजलों का संग्रह गाँवों का बूढ़ा बरगद।

सम्मान व पुरस्कार-
उपन्यास अब लौं नसानी को म.प्र. हिंदी साहित्‍य सम्‍मेलन का वागीश्‍वरी सम्‍मान

संप्रति-
भिलाई इस्पात संयत्र के शिक्षा विभाग में कनिष्ठ प्रबंधक

1

1
मुखपृष्ठ पुरालेख तिथि अनुसार । पुरालेख विषयानुसार । अपनी प्रतिक्रिया  लिखें / पढ़े
1
1

© सर्वाधिका सुरक्षित
"अभिव्यक्ति" व्यक्तिगत अभिरुचि की अव्यवसायिक साहित्यिक पत्रिका है। इस में प्रकाशित सभी रचनाओं के सर्वाधिकार संबंधित लेखकों अथवा प्रकाशकों के पास सुरक्षित हैं। लेखक अथवा प्रकाशक की लिखित स्वीकृति के बिना इनके किसी भी अंश के पुनर्प्रकाशन की अनुमति नहीं है। यह पत्रिका प्रत्येक
सोमवार को परिवर्धित होती है।