मुखपृष्ठ

पुरालेख-तिथि-अनुसार -पुरालेख-विषयानुसार -हिंदी-लिंक -हमारे-लेखक -लेखकों से


व्यक्तित्व

 

  अभिव्यक्ति में
राजर्षि अरूण की रचनाएं

हास्य व्यंग्य में
काश दिल घुटने में होता
कुता

 


राजर्षि अरूण   


जन्म - 2 दिसम्बर 1969 को शाहपुर (बिहार)में

शिक्षा एम. ए. (हिन्दी तथा अंग्रेज़ी)

सम्प्रति - श्री कंवर तारा न्यास (बड़वाह) की ओर से इनकी सभी शैक्षिक संस्थाओं का संचालक

प्रकाशन - विभिन्न पत्र-पत्रिकाओं में कविताएँ, व्यंग्य और शैक्षिक व राजनैतिक आलेख प्रकाशित

"क्योंकि उसे भी अर्थ चाहिए" कवितासंग्रह प्रेस में।

संपर्क shwetarun@rediffmail.com

1

1
मुखपृष्ठ पुरालेख तिथि अनुसार । पुरालेख विषयानुसार । अपनी प्रतिक्रिया  लिखें / पढ़े
1
1

 सर्वाधिका सुरक्षित
"अभिव्यक्ति" व्यक्तिगत अभिरुचि की अव्यवसायिक साहित्यिक पत्रिका है। इस में प्रकाशित सभी रचनाओं के सर्वाधिकार संबंधित लेखकों अथवा प्रकाशकों के पास सुरक्षित हैं। लेखक अथवा प्रकाशक की लिखित स्वीकृति के बिना इनके किसी भी अंश के पुनर्प्रकाशन की अनुमति नहीं है। यह पत्रिका प्रत्येक
सोमवार को परिवर्धित होती है।