मुखपृष्ठ

पुरालेख-तिथि-अनुसार -पुरालेख-विषयानुसार -हिंदी-लिंक -हमारे-लेखक -लेखकों से


व्यक्तित्व

अभिव्यक्ति में डा रमेश कुमार भूत्या की रचनाएं


संस्कृति में
पंचकर्म और उसका औचित्य

 


डा रमेश कुमार भूत्या


जन्म :
३ मार्च १९५४, केशोराय पाटन, जिला बूंदी (राजस्थान में)

कार्यक्षेत्र :
आयुर्वेदाचार्य (आयुर्वेद से संबंद्ध ज्ञात-अज्ञात हर्बल प्लांटस की रिसर्च, वर्गीकरण एवं फ़ोटोग्राफ़ी सहित पुस्तकों का लेखन)
प्रकाशित पुस्तकें : वनस्पति औषध विज्ञान, त्वचा रोग विज्ञान।

प्रकाशित लेख :
विभिन्न राष्ट्रीय स्तर की पत्र-पत्रिकां में प्रकाशित
लेखन, फ़ोटोग्राफ़ी, आयुर्वेदिक शोध हेतु नेपाल से मुंबई तक भ्रमण में रुचि

संपर्क satya292001@yahoo.com

1

1
मुखपृष्ठ पुरालेख तिथि अनुसार । पुरालेख विषयानुसार । अपनी प्रतिक्रिया  लिखें / पढ़े
1
1

© सर्वाधिका सुरक्षित
"अभिव्यक्ति" व्यक्तिगत अभिरुचि की अव्यवसायिक साहित्यिक पत्रिका है। इस में प्रकाशित सभी रचनाओं के सर्वाधिकार संबंधित लेखकों अथवा प्रकाशकों के पास सुरक्षित हैं। लेखक अथवा प्रकाशक की लिखित स्वीकृति के बिना इनके किसी भी अंश के पुनर्प्रकाशन की अनुमति नहीं है। यह पत्रिका प्रत्येक
सोमवार को परिवर्धित होती है।