मुखपृष्ठ

पुरालेख-तिथि-अनुसार -पुरालेख-विषयानुसार -हिंदी-लिंक -हमारे-लेखक -लेखकों से


घर-परिवार जीवन शैली


२४ सुझाव जो जल्दी वजन कम करने में
सहायक हो सकते है

(संकलित)


 

५- क्या पियें और क्या नहीं-
बहुत से लोगों की धारणा होती है कि अल्कोहल शून्य कैलोरी पेय है। लेकिन यह विचार भ्रामक है। शुदध अल्कोहल का पान नहीं किया जाता बल्कि बिवरेज का पान किया जाता है जो, निश्चित रूप से स्वास्थ्य के लिये हानिकारक है। इसमें कैलोरी की मात्रा बहुत अधिक होती है और इसे पचाने में शरीर को सबसे अधिक समय लगता है। नियमित रूप से भोजन में मद्यपान से पेट बड़ा होने की शिकायत पाई जाती है। दूसरे शब्दों में अल्कोहल में ऐथनॉल, कॉलेस्ट्राल, सोडियम और फैट काफी मात्रा में होते हैं जो वजन को घटने नहीं देते। इसलिये जल्दी वजन कम करने के लिये भोजन से मद्यपान को अलग कर देना काफी उपयोगी सिद्ध हो सकता है।

इसका मतलब यह नहीं है कि मद्यपान के स्थान पर लस्सी पियें क्यों कि लस्सी में चीनी, मलाई और दही काफी वजन बढ़ा सकते हैं। हाँ वसा रहित मट्ठा, तरबूज, गाजर खीरे और पपीते जैसे कम कैलोरी वाले फलों का रस वजन करते समय स्वास्थ्य के लिये उपयोगी है।

६- अच्छी नींद लें-
जब वजन कम करने की बात होती है तो थोड़ा ज्यादा सोना लाभदायक रहता है। भूख हमें जागते समय ही महसूस होती है, सोते समय नहीं। जब हम ज्यादा जागते हैं तो भूख भी ज्यादा लगती है। लंबा सोने से भूख लगने का समय कम हो जाता है और हम कम खाना खाते है। ठीक से नींद लेने से शरीर चुस्त रहता है और चुस्त रहने से काम पर ध्यान ठीक से केन्द्रित होता है इसलिये हम बार बार भोजन के बारे में नहीं सोचते। रात को नींद न आए तो अक्सर भूख लगने लगती है। इससे बचने के लिये भी ठीक समय पर ठीक से सोने पर ध्यान देना अच्छा रहेगा।

ताजे फल सदा फ्रिज में रखें ताकि तुरंत खाया जा सके। खीरा, गाजर, टमाटर, सलाद, टोफू, पनीर, भीगे चने या मूँग को बनाने में बहुत ही कम समय लगता है और ये बिना पके या कम पके हुए भी स्वादिष्ट लगते हैं। जल्दी तैयार होने वाले कुछ ऐसे मनपसंद व्यंजनों की भी खोज करें जो स्वास्थ्यवर्धक हों और जिन्हें पकाने में ज्यादा समय न लगता हो।

१ मार्च २०१९

(अगले अंक में कुछ और सुझाव)                                                       पृष्ठ- . . .

1

1
मुखपृष्ठ पुरालेख तिथि अनुसार । पुरालेख विषयानुसार । अपनी प्रतिक्रिया  लिखें / पढ़े
1
1

© सर्वाधिका सुरक्षित
"अभिव्यक्ति" व्यक्तिगत अभिरुचि की अव्यवसायिक साहित्यिक पत्रिका है। इस में प्रकाशित सभी रचनाओं के सर्वाधिकार संबंधित लेखकों अथवा प्रकाशकों के पास सुरक्षित हैं। लेखक अथवा प्रकाशक की लिखित स्वीकृति के बिना इनके किसी भी अंश के पुनर्प्रकाशन की अनुमति नहीं है। यह पत्रिका प्रत्येक
सोमवार को परिवर्धित होती है।