मुखपृष्ठ

पुरालेख-तिथि-अनुसार -पुरालेख-विषयानुसार -हिंदी-लिंक -हमारे-लेखक -लेखकों से


घर-परिवार जीवन शैली - भारत के विचित्र गाँव


भारत के विचित्र गाँव
जैसे विश्व में अन्यत्र कहीं नहीं हैं


- कोडिन्ही- जहाँ ४०० से ज़्यादा जुड़वा हैं

केरल के मलप्पुरम जिले में कोडिन्ही गाँव एक ऐसा गाँव है जहाँ ४०० से ज़्यादा जुड़वा जोड़े रहते हैं, जिनमे नवजात शिशु से लेकर ६५ साल के बुजुर्ग तक शामिल है। केरल के मलप्पुरम जिले में स्तिथ कोडिन्ही गांव को जुड़वा लोगों का गांव के नाम से भी जाना जाता है। विश्व स्तर पर देखा जाए तो १००० बच्चों में ४ जुड़वा होते हैं, मगर इस गांव में १००० बच्चों पर ४५ बच्चे जुड़वा हैं। यह औसत पुरे विश्व में दूसरे स्थान पर और एशिया में पहले स्थान पर आता है। विश्व में पहला स्थान नाइज़ीरिआ के इग्बो-ओरा को प्राप्त है जहाँ यह औसत १४५ है। कोडिन्ही गाँव एक मुस्लिम बहुल गाँव है जिसकी आबादी लगभग २००० है। इस गाँव में घर, स्कूल, बाज़ार हर जगह हमशक्ल नज़र आते है।

 १ फरवरी २०१८

(अगले अंक में एक और गाँव)  पृष्ठ- . .

1

1
मुखपृष्ठ पुरालेख तिथि अनुसार । पुरालेख विषयानुसार । अपनी प्रतिक्रिया  लिखें / पढ़े
1
1

© सर्वाधिका सुरक्षित
"अभिव्यक्ति" व्यक्तिगत अभिरुचि की अव्यवसायिक साहित्यिक पत्रिका है। इस में प्रकाशित सभी रचनाओं के सर्वाधिकार संबंधित लेखकों अथवा प्रकाशकों के पास सुरक्षित हैं। लेखक अथवा प्रकाशक की लिखित स्वीकृति के बिना इनके किसी भी अंश के पुनर्प्रकाशन की अनुमति नहीं है। यह पत्रिका प्रत्येक
सोमवार को परिवर्धित होती है।